Full Form of Internet? Internet Kaise Chalta hai? Internet का अर्थ हिंदी में?

INTERNET जिससे दुनिया में सबसे बड़ी Technology कही और मानी जाती है। आप लोग इंटरनेट का इस्तेमाल करते समय यह जरूर सोचते होंगे की Full Form of Internet? What is Internet – इंटरनेट क्या हैं? Internet kaise Chalta hai? इंटरनेट का अर्थ क्या हैं? इंटरनेट की शुरुआत कब,कहा और कैसे हुईं? इस तरह के विभिन्न सवाल आपके मन में आते होंगे।
How to work Internet
Internet Full Form
आज इंटरनेट का विकास होने के साथ-साथ दुनिया भी Digital बनती जा रही है। अगर आपने अभी तक इंटरनेट के बारे में जानकारी हासिल नहीं कि है तो आज हम आपको आसान शब्दों में इंटरनेट के बारे में पूरी जानकारी इस पोस्ट में देंगे, ताकि आपको इंटरनेट के बारे में ज्यादा से ज्यादा Information प्राप्त हो।
 

Full Form of Internet? Internet Full Form? इंटरनेट फुल फॉर्म? इंटरनेट का पूरा नाम क्या हैं?

दोस्तों आपको इंटरनेट से संबंधित पूरी जानकारी आगे आपको पोस्ट में मिल जाएगी सबसे पहले हम आपको Internet Full Form के बारे में बताते हैं कि इंटरनेट की फुल फॉर्म क्या है।

Internet Full Form – Interconnected Network (इंटरकनेक्टेड नेटवर्क) हैं। इसे हिंदी में सेवा चयन बोर्ड अर्थात संबंधों का संजाल कहा जाता है। अब आपको इसकी फुल फॉर्म के बारे में पता चल गया होगा और आप इसे कभी भूल नहीं पाएंगे।

What is Internet? इंटरनेट क्या हैं?

मित्रों अगर आप यह पोस्ट पढ़ पा रहे है तो यह इंटरनेट का ही कमाल है और इस पोस्ट को मैंने लिखा है और इसे अपलोड किया है यह इंटरनेट के माध्यम से ही हो पाया है और यह जानकारी आप तक इंटरनेट के माध्यम से ही पहुंच पाई है अगर आज इंटरनेट नहीं होता तो शायद यह जानकारी आप तक पहुंच पाती।

इंटरनेट का अर्थ? इंटरनेट क्या है? मित्रो आपको बता दें इंटरनेट वर्तमान में सूचना संप्रेषण का सशक्त Electronic माध्यम है। इंटरनेट कई कंप्यूटरों का अंतरजाल होता है यह वर्तमान में सबसे सस्ती और गतिशील संचार प्रणाली है। यह विश्व के अलग-अलग Server के साथ जुड़कर कार्य करता है।

आपको इंटरनेट परिभाषा के बारे में पता चल गया होगा। इस इंटरनेट की परिभाषा से पहले आपको शायद ही इस तरह की सरल परिभाषा कहीं पर भी पढ़ने को नहीं मिली होगी। इंटरनेट की परिभाषा बहुत ही कठिन और जटिल होती है इसकी परिभाषा हर किसी के समझ में नहीं आ पाती हैं।

How to Work Internet? इंटरनेट कैसे चलता है? इंटरनेट कैसे कार्य करता है? इंटरनेट कैसे काम करता है?

आपको पता होगा जब इंटरनेट की शुरुआत हुई थी तब उसे एकमात्र उपग्रह के माध्यम से ही चलाया जाता था। लेकिन अब वह तकनीक पुरानी हो चुकी थी तथा Internet Speed से भी नहीं चल पा रहा था जिसकी वजह से नई टेक्नोलॉजी का निर्माण करना पड़ा।
How to work Internet
INTERNET Work
अब हमारा इंटरनेट Cables के माध्यम से चलता है। Internet Cables के माध्यम से Access हो पाता हैं। इंटरनेट को चलाने में जो Cables उपयोग में लाई जाती है उसका नाम Optical Fiber Cable हैं। इन Cables को समुंद्र के अंदर बिछाया गया है। जिसकी लंबाई 9 लाख किलोमीटर से भी अधिक है।

How to work Internet
यह Internet इन cables और समुंद्र के माध्यम से ही पूरे विश्व तक पहुँच पाया हैं। कभी-कभी समुंद्री जीव इन Cables को नुकसान पहुंचा देते हैं जिसकी वजह से कई परेशानियाँ होती हैं। लेकिन जो इस पर लगे Workers होते हैं वो इसे कम समय में जल्द ही ठीक कर देते हैं। जिससे इंटरनेट की problem नहीं हो पाती हैं।

Internet तीन Process के माध्यम से चल पाता हैं और आप तक सही जानकारी पहुँचा पाता हैं।

  1. Internet Server के माध्यम से।
  2. Internet Provider Network माध्यम से। जैसे:- jio, Airtel, Idea, Vodafone (Tower’s) आदि।
  3. Browser के माध्यम से।
जैसे ही आप Browser (इंटरनेट) पर Videos, Images, Music आदि कुछ भी सर्च करते हो तो सबसे पहली कमांड Internet Server तक जाती है और उसके बाद Internet Server आपके द्वारा जो भी जानकारी खोजी गई हैं उसे Server पर खोज करके उसे नेटवर्क तक पहुँचाता हैं। नेटवर्क के माध्यम से आपके ब्राउज़र को कमांड दी जाती है और इस प्रकार आप तक सही जानकारी पहुँच पाती है।

इंटरनेट के फायदे और नुकसान? Advantages and disadvantages of Internet?

दोस्तों अगर आप इंटरनेट चलाते हो तो आपको फायदे और नुकसान के बारे में भी जानना बहुत ही आवश्यक है। Internet के माध्यम से आप अच्छी जानकारी भी ले सकते हैं और बुरी जानकारी भी ग्रहण कर सकते हो।

इंटरनेट एक सूचना आदान-प्रदान करने वाला त्वरित गति वाला माध्यम है। इसकी उपयोगिता असीमित है। इसके माध्यम से हम लेख-लिख सकते हैं, न्यूज़ वेबसाइट के लिए News Editor, Technical Writer’s, Online Blogger,Youtuber, tiktoker आदि ऐसे इंटरनेट के जरिए हम Online कार्य कर सकते हैं।
 
WIFI के बारे में – अभी जानें?

घर बैठकर इंटरनेट के माध्यम से कई तरह के कार्य करके अपना भविष्य संवारा जा सकता है। आज दुनियाभर के लोग इंटरनेट के माध्यम से लाखों रुपए कमाते हैं। Online सूचना सेवा की दृष्टि से भी इंटरनेट की सर्वाधिक उपयोगिता है। इंटरनेट आज के दौर की सबसे सस्ती और विश्व व्यापी संचार प्रणाली हैं।

अगर आप मेरे द्वारा बताई गई जानकारी के अनुसार इंटरनेट का सही उपयोग करते हो तो आप सही Information पा सकेंगे अन्यथा आपका इंटरनेट पर टाइम ही बर्बाद होगा और आप कुछ भी नहीं कर पाएंगे इसलिए आप इंटरनेट का सही उपयोग करना सीखें।

इंटरनेट के माध्यम से आप अच्छी जानकारी ले सकते हो और कुछ जानकारी दे भी सकते हो। इंटरनेट अंतर क्रियात्मकता और विश्व के करोड़ों कंप्यूटर को जोड़ने वाला ऐसा संजाल है जो केवल एक Tool अर्थात उपकरण से सूचनाओं के विशाल भंडार का माध्यम है। यह सूचना,मनोरंजन,ज्ञान,व्यक्तिगत तथा सार्वजनिक संवादों के आदान-प्रदान का त्वरित माध्यम है। इंटरनेट की उपयोगिता यह है कि इससे एक सेकंड में लगभग 70000 शब्द एक जगह से दूसरी जगह भेज सकते हैं अब 4जी और 5जी से इसकी गति 10 गुना बढ़ गई है।

इंटरनेट की शुरुआत कब हुई थी? इंटरनेट की शुरुआत कहां हुई थी? इंटरनेट की शुरुआत किसने की थी? History of Internet?

यह सब जानकारी पढ़ने के बाद आपके मन में विचार आ रहा होगा कि आखिरकार इंटरनेट की शुरुआत कब कहां और किसने की थी तो यह भी जानकारी हम आपको दे रहे हैं।

इंटरनेट की खोज करना किसी एक व्यक्ति की बस की बात नहीं थी। इसलिए कई वैज्ञानिकों ने मिलकर इंटरनेट की खोज की थी। इंटरनेट को सबसे पहले ARPA कहा जाता था जिसका पूरा नाम Advanced Research Project Agency हैं।

कहा जाता है जब अमेरिका और सोवियत संघ रूस के बीच शीत युद्ध चल रहा था उसी समय अमेरिका इंटरनेट को बनाने में लगा हुआ था क्योंकि अमेरिका अच्छी एक विश्वसनीय संचार सेवा चाहता था।

इंटरनेट की शुरुआत 1969 में अमेरिका द्वारा की गई जिसके अंदर चार मुख्य कंप्यूटरों को जोड़ा गया और उसके अंदर इंटरनेट चलाया गया। इस प्रकार इंटरनेट आगे से आगे फैलता चला गया और आज विश्व भर में इंटरनेट का उपयोग किया जाता है।

भारत में इंटरनेट की शुरुआत कब हुई? भारत में इंटरनेट कब आया? India me Internet kab aaya?

जैसे-जैसे इंटरनेट आगे बढ़ा और इंटरनेट को लोगों ने चलाना शुरू किया उसी के साथ भारत में भी इंटरनेट की शुरुआत हुई। भारत में इंटरनेट की शुरुआत 14 अगस्त 1995 को Government कंपनी BSNL ने की थी।

इंडिया में आज इंटरनेट 4G तक बढ़ता गया हैं। आज BSNL जैसी Government कंपनी को भी पीछे छोड़ कर प्राइवेट कंपनियों ने भी Internet को खूब बढ़ावा दिया हैं, और आज इंडिया के अंदर इंटरनेट के दुनिया के आधे यूजर्स माने जाते हैं और आज इंडिया डिजिटल की और बढ़ रहा है।
 
BSC के बारे में – अभी जानें?

Paragraph.

मित्रों अगर आपको इंटरनेट से संबंधित जानकारी पसंद आई है तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के व्हाट्सएप,फेसबुक,इंस्टाग्राम,टि्वटर आदि सोशल मीडिया पर जरूर शेयर कीजिए ताकि उन्हें भी इंटरनेट के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त हो सके और वह इंटरनेट का सही उपयोग कर सकें।

अगर आपको Internet Full Form पोस्ट से संबंधित कोई सवाल है तो आप हमें नीचे दिए गए कमेंट के कमेंट बॉक्स में कमेंट करके जरूर बताएं हम आपके सवाल का जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे अगर आपको ऐसी और Knowledgeable जानकारी चाहिए तो आप फिर से हमारी इस वेबसाइट पर आ सकते हैं धन्यवाद।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *